Zika Virus: जिका वायरस से 24 वर्ष की महिला संक्रमित

Zika Virus

Kerala में Zika Virus के पहले केस की पुष्टि, 24 साल की महिला संक्रमित!

India में corona virus के बीच Zika virus ने भी दस्तक दे दी है,Kerala में Zika virus के पहले केस की पुष्टि हुई है। केरल में इस साल का ये पहला मामला है,केरल की स्वास्थ्य मंत्री वीना जॉर्ज ने गुरुवार को जानकारी देते हुए बताया कि राज्य में 24 साल की महिला में मच्छर से फैलने वाली बीमारी जीका वायरस के पहले मामले का पता चला है.!

 

पुणे के नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ और फोनोलॉजी को जांच के लिए भेजे गए 19 सैंपल में से 13 जिका वायरस संक्रमण मिला है आपको बता दें कि यह सभी तिरुवनंतपुरम से भेजे गए जीका से संक्रमित होने वाली महिला की हालत स्थिर है और उनका एक निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है आपको बता दें कि अस्पताल में डॉक्टरों के मुताबिक यह वायरस जानलेवा नहीं है इसलिए चिंता की कोई बात नहीं है महिला को बुखार और सिर दर्द और शरीर पर स्पोर्ट पढ़ने के बाद भर्ती कराया गया था.!

 

डॉक्टरों ने कहा कि सभी की सावधानियां बढ़ती जा रही है वही 19 लोगों की सैंपल एनआईबी को भेजे गए उन सभी में से इसी तरह के लक्षण देखे गए हैं बता दें कि जीका वायरस मच्छर के काटने से फैलता है हालांकि यह सभी मच्छरो के काटने से नहीं फैलता है जिका वायरस ज्यादातर संक्रमित एडिस प्रजाति के मच्छर के काटने से फैलता है यह मच्छर दिन के समय काटते हैं एडिस मच्छर वही होते हैं जिनके काटने से डेंगू और चिकन मुनिया जैसी बीमारियां फैलती है..!

Zika Virus
Zika Virus

जीका वायरस (Zika Virus) गर्भवती महिला भ्रूण में भी जाकर फैल सकता है और शिशु को अन्य जन्मजात बीमारियों को पैदा कर सकता है. जिका वायरस की वजह से समय से पहले जन्म और गर्भपात जैसी स्थिति भी पैदा हो सकती है इस वायरस के लक्षण डेंगू और चिकन मुनिया जैसे ही है आमतौर पर मच्छर काटे जाने से 2 से 7 दिन में बीच तक व्यक्ति जिका वायरस से संक्रमित हो सकता है जिका वायरस के लक्षणों में हल्का बुखार और सिर दर्द मांसपेशियां जोड़ों में दर्द उल्टी आना सामान्य तौर पर अस्वस्थ महसूस करना शामिल है..!

जिका वायरस के बचाव (protection against zika virus)

स्वास्थ्य अधिकारियों के मुताबिक व्यक्ति अगर पूरी तरह से आराम करता है इस संक्रमण पर काबू पाया जा सकता है जिका वायरस के लिए कोई एंटी डॉट फंगल या दवा नहीं है इस वायरस से बचाओ सबसे अच्छा तरीका है यह है कि दिन के समय मच्छरों के काटने से बचा जाए. कहा जा रहा है कि गर्भवती महिलाओं के लिए खतरनाक है क्योंकि भ्रूण को वायरस मिल सकता है जिससे होने वाले बच्चे में किसी तरह की बीमारी पैदा होने की स्थिति बन जाती है..!

 

Previous articleSmall cow in Bangladesh: दुनिया की सबसे छोटी गाय
Next articleFull HD Movies Download 1080p| Bhuj: The Pride of India
My name is Ashok Saini I am a blogger / news reporter I am working on a news website and I work to spread the news to the people