Russia Ukraine Update: जंग के बीच भारत के झंडे का कमाल देखिए, ये हैं ताकत।

Russia Ukraine Update जंग के बीच भारत के झंडे का कमाल

Russia Ukraine Update: Ukraine में सुरक्षा की गारंटी बना भारत का तिरंगा, रूस यूक्रेन युद्ध (russia ukraine war) के बीच अगर आपको भारत की ताकत देखनी हो तो यह वीडियो आपके लिए है इस वीडियो में हम आपको बताएंगे कि कैसे भारत का राष्ट्रीय ध्वज यूक्रेन में सुरक्षित रहने की गारंटी बन गया है इस समय सोशल मीडिया पर यूक्रेन में पढ़ रहे भारतीय छात्रों के कई वीडियो वायरल हो रहे हैं इन सभी वीडियो में भारतीय छात्र यह कहते दिख रहे हैं कि हमारी गाड़ी पर तिरंगा देखकर सम्मान के साथ बॉर्डर पार कराया जा रहा है।

Russia Ukraine Update जंग के बीच भारत के झंडे का कमाल

इन सभी छात्रों के लिए भारत का राष्ट्रीय ध्वज एक उम्मीद बन गया है आपको बता दें कि भारत सरकार लगातार यूक्रेन में फंसे सभी भारतीय छात्रों को वापस ला रही है भारत सरकार ऑपरेशन गंगा के तहत एयर इंडिया की फ्लाइट द्वारा रेस्क्यू ऑपरेशन चला रही है केंद्रीय मंत्री जी की रेड्डी ने कहा है कि जो भारतीय छात्र यूक्रेन से दूसरे देशों की सीमा तक आ रहे हैं अपनी गाड़ी पर भारत का झंडा लगा है।
First flight arrives with 219 Indians evacuated from Ukraine - The Hindu
यूक्रेन से निकल रहे सभी छात्रा अपने वाहनों पर तिरंगा लगाकर या अपने हाथों में तिरंगा लेकर पड़ोसी देशों की तरफ बढ़ रहे हैं आपको बता दें कि बॉर्डर पर इन भारतीय छात्रों के वाहनों को सुरक्षित रास्ता दिया जा रहा है तिरंगे को देखकर रूसी सेना के जवान भारतीय छात्रों को इज्जत के साथ सही रास्ते पर भेज रहे हैं भारतीय झंडा लगे वाहनों को सुरक्षित निकलने में रूसी सेना के साथ-साथ यूक्रेन की सेना की मदद कर रही है।

युद्ध से जूझ रहे देश में भारतीय ध्वज का सम्मान देकर आज हर भारतीय का सीना गर्व से चौड़ा हो गया है आपको बता दें कि भारतीय छात्रों को यूक्रेन के पड़ोसी देशों हंगरी पोलैंड और रोमानिया के रास्ते भारत लाया जा रहा है क्योंकि रूस के हमले के बाद यूक्रेन ने अपना एयरस्पेस बंद कर दिया है एक तरफ जहां भारत सरकार अपने छात्रों को वापस लाने के लिए जीत जाने कर रही है।

तो वहीं पाकिस्तान ने अपने छात्रों को अकेला छोड़ दिया है यूक्रेन में फंसे पाकिस्तान के छात्र इमरान सरकार से गुहार लगा रहे हैं कि उन्हें बचाया जाए लेकिन इमरान खान सरकार के कानों पर जूं तक नहीं रेंग रही लेकिन ऐसा लगता है कि इमरान खान सरकार को अपने ही देश के छात्रों की कोई परवाह नहीं है।