Navratri 2021 Day 3: माँ चंद्रघंटा की पूजा विधि शुभ मुहूर्त

Navratri 2021 Day 3: माँ चंद्रघंटा की पूजा विधि शुभ मुहूर्त

Navratri 2021 Day 3: नवरात्रि तीसरा व चौथा दिन शुभ तिथि, माँ चंद्रघंटा की पूजा विधि शुभ मुहूर्त महत्व ?

 

पौराणिक कथाओ के अनुसार नवरात्रि के नौ दिनों में माँ के नौ अलग अलग रूपों की पूजा होती है पंचांग के अनुसार इस बार चतुर्थी तिथि का क्षय होने के कारण तीसरा और चौथा नवरात्र एक ही दिन पड़ेगा. नवरात्रि के तीसरे दिन दुर्गा माँ के तीसरे स्वरुप देवी चंद्रघंटा की पूजा और चौथे दिन माँ कुष्मांडा की पूजा आराधना की जाती है आज हम आपको साल 2021 शारदीय नवरात्रि के तीसरे और चौथे व्रत की तिथि माता के स्वरुप, पूजा विधि और इस दिन के जरूरी नियमो व ध्यान रखी जाने वाली बातो के बारे में बताएँगे।

 

नवरात्रि तीसरा व चौथा दिन शुभ तिथि

Navratri 3 & 4 Days

 

  • पंचांग के अनुसार साल 2021 में चतुर्थी तिथिका क्षय होने के कारण शारदीय नवरात्रि का तीसरा और चौथा      नवरात्रीव्रत एक ही दिन रखा जायेगा।
  • तीसरे और चौथे नवरात्री की तिथि होगी-09 अक्टूबर शनिवार।
  • तीसरे दिन मां चंद्रघंटाव मां कुष्मांडा की पूजा होगी।
  • पंचांग के अनुसार तृतीया तिथि 9 अक्टूबर शनिवार को सुबह 07:48 मिनट तक ही रहेगी इसके बाद चतुर्थी तिथि शुरू हो जाएगी। जो 10 अक्टूबर को सुबह 5:00 बजे तक रहेगी।
Navratri 2021 Day 3
Navratri 2021 Day 3

देवी चंद्रघंटा स्वरुप व पूजन विधि

नवरात्र के तीसरे दिन मां चंद्रघंटा की पूजा होती है। मां दुर्गा कायह रूप बेहद सुंदर, मोहक और अलौकिक है। चंद्र के समान मां के इस रूप से दिव्य सुगंधियों और दिव्यध्वनियों का आभास होता है। माँ का वाहन सिंह है इनके मस्तक में घंटेका आकार का अर्धचंद्र है इसलिए इन्हें देवी चंद्रघंटा कहा जाता है।

तीसरे दिन देवी चंद्रघंटा की पूजा से पहले सभी देवी देवताओ का आह्वाहन करे और फिर मा चंद्रघंटाको पंचामृत से स्नान कराये शास्त्रों के अनुसार इस दिन माता रानी की पूजा में क्रीम व भूरे रंग के वस्त्रो का प्रयोग कर माँको कमलव शंखपुष्पीके फूल अर्पण करे और उन्हें दूध या दूध से बनी मिठाई या खीर का भोग लगाया जाय इसके बाद हाथों में फल लेकर प्रार्थना करते हुए माँ के मन्त्र ओम देवी चन्द्रघंटाय नमः का जाप करे।

 

आज भूल से भी न करे ये गलतियां

नवरात्रि के प्रत्येक दिन की तरह इस दिन भी पूरे विधि-विधान से साथ देवी दुर्गा की पूजा अर्चना करे इस दिन घर में तामसिक भोजन न बनाये. नवरात्रि के दौरान रोज सुबह जल्दी स्नान कर स्वच्छ वस्त्रधारण करे और फिर पूजा स्थल की भी सफाई कर नियमानुसार पूजा करें, घर में अस्वछता न होने दे. नवरात्री के दौरान सुबह के अलावा शाम को भी विधिवत पूजा कर घी का दीपक लगाकर आरती करें.

प्रधानमंत्री आवास योजना 2021 ऐसे करें आवेदन ऑनलाइन !

RD Full Form: आर डी का फुल फॉर्म क्या होता है, RD Account

अगर आपने अखंड ज्योति प्रज्वलित की है तो दिन इस का ध्यान रखे. नवरात्री के दिनों में पूर्णरूप से सात्विकता का ख्याल रखे इस दिन की का अपमानया निरादर न करे अगर आपके द्वार पर कोई जरूरत मंद आ जाय तो उसे खाली हाथ न जाने दे।

Previous articleछत्तीसगढ़ में भीषण हादसा जवानों से भरी बस पलटी 12 घायल 4 गंभीर !
Next articleNavratri 2021 Day 5: देवी स्कंदमाता की पूजा विधि शुभ मुहूर्त
My name is Ashok Saini I am a blogger / news reporter I am working on a news website and I work to spread the news to the people