Mayaro Virus: दुनिया पर छाया नई महामारी का साया..!

0
Mayaro Virus: दुनिया पर छाया नई महामारी का साया..!

Mayaro Virus: दुनिया पर छाया नई महामारी का साया..!

नई महामारी संभावना वैज्ञानिकों ने किया परेशान | कौन सी महामारी का खतरा है! |Mayaro Virus | 

खतरनाक और घातक कोरोनावायरस सर्जरी दुनिया पर अब एक और वायरस का साया मंडराने लगा है वैज्ञानिकों ने अगली महामारी क्या होगी उसका पता लगा लिया है पता लगा लिया है कि यह महामारी कैसे किस जीव से और किस देश से फैलने की आशंका है वैज्ञानिकों ने बताया कि कैसे अगली महामारी को टाला जा सकता है आशंका जताई है कि इस बार की महामारी ब्राजील के जंगल हो वहां मौजूद चमका दोनों बंदरों और चूहों की प्रजाति में मौजूद बैक्टीरिया और वायरस से फैल सकती है

Mayaro Virus

इस रिसर्च  में पता लगाया गया कि ब्राजील के मॉन्सटर पेट्रोल यूनिवर्सिटी ऑफ अमेजॉन उसके बायोलॉजिस्ट मार्शल ओ गॉड ओ और उनकी टीम को हाल ही में कूलर में 35 चैनल इन बंदरों की सड़ी हुई लाश मिली किसी ने कूलर की बिजली सप्लाई बंद कर दी थी जिसके बाद बंद करो कि उसके अंदर ही सड़ गए मशीनों और उनकी टीम ने बंदरों से सैंपल लिए और उसे पियूष ऐमेजोनिया बाय बाय यहां पर उनकी मदद करने के लिए चलो चैस एलीफैंट एंड आवाज सामने आए उन्होंने बंदरों के सैंपल से तरह से चेक बाउंस वायरस और बाकी संक्रमित एजेंट की खोज की है बताया कि जिस तरह से इंसान जंगलों पर कब्जा कर रहे हैं

ऐसे में वहां रहने वाले जीवो में मौजूद वायरस बैक्टीरिया और pathogen इन स्थानों पर हमला करके संक्रमण फैला रहे हैं ठीक है सही हुआ चीन में वहां से जो वायरस निकले उनकी वजह से मैं जेलीस्टोन फैला अब वहीं से कोरोनावायरस निकला जिसने पिछले करीब 2 सालों से पूरी दुनिया में तबाही मचा रखी है बल्कि उसके चारों तरफ अमेजॉन के जंगल है 100 किलोमीटर तक फैले मौत में करीब 2200000 लोग रहते हैं दुनियाभर में मौजूद  14 सो चमगादड़ओ की प्रजातियों में से 12 फ़ीसदी ऐमेज़ॉन के जंगलों में रहते हैं

इसके अलावा बंदरों और चूहों की कई ऐसी प्रजातियां भी रहती है जिन पर वायरस और बैक्टीरिया या वायरस यह कभी भी इंसानों में आकर बड़ी Mayaro Virus महामारी का रूप ले सकते हैं इन सबकी वजह है ऑर्गेनाइजेशन सड़के बना नादान बना नादान बनाओ ना और जंगलों को काट ना क्यों बाय बैंक के साइंटिस्ट जैसे और उनकी टीम के लोग हमेशा इस बात का पता करते रहते हैं कि किस जंगली जीत से कौन सा pathogen इंसानों में प्रवेश कर सामान्य स्वास्थ्य संबंधित तथ्यों को बिगाड़ सकता है जानवरों से इंसान में आने वाली बीमारियों को जन्नत कहते हैं आपको बता दें कि मानस में कोरोनावायरस की खतरनाक लहरें आ चुकी है

जिसके बाद से शहर में अब तक 9,000 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है ब्राजील के कोरोनावायरस वायरल फीवर की उत्पत्ति मौत से हुई थी क्रूज ऐमेज़ॉन यहां बाय बैंक के मैचों में 100 से ज्यादा जंगली जी को के शरीर के तरल पदार्थ मल खून और बाकी चीजें रखी है यहां पर करीब 40 से ज्यादा प्रजातियों के जीवो के अंग अवशेषी है

Mayaro Virus जिनमें ज्यादातर चमगादड़ चूहे और स्तनधारी जीव है जो ना का कहना है कि अगले महामारी इन हिस्ट्री में रहने वाले बैक्टीरिया वायरस से फैलने की आशंका है इस समय और उनकी टीम ने विभिन्न प्रकार के जंतुओं से इंसान में फैलने वाले वायरल फीवर और फाइलेरिया के अलग-अलग प्रकारों की खोज की है साथ ही बीमारी फैलाने वाले जीव और पाजी जींस के डीएनए भी स्टोर किए जा रहे हैं

अब वह एक और वायरस को लेकर चिंतित है इस वायरस का नाम है मारो वायरस युवती से दक्षिण अमेरिकी देशों में फैल रहा है कि संक्रमण से फ्लू जैसे लक्षण दिखते हैं सबसे बड़ी दिक्कत यह है कि अगर किसी इंसान को संक्रमित करता है तो डॉक्टर यह पता लगाने में परेशान हो जाएंगे यह मायरो वायरस है या मरीज को चिकनगुनिया डेंगू हुआ है क्योंकि भारत लगातार शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को धोखा देता है.

उन्होंने कहा कि ब्राजील में अगला सबसे बड़ा मारो वर्कर बंदरों में फाइलेरिया के नोट मिले हैं साथ ही जी का और चिकनगुनिया के वायरस भी इन बंदरों में है ब्राजील में जीका वायरस इंसानों से बंदरों में वापस गया था अलेक्जेंडर ने कहा कि मानस के संबंध में फिलहाल ऐसे वायरस नहीं है.

लेकिन यह बंधन कभी भी इंसानों को खतरनाक तरीके से संक्रमित कर सकते हैं हालांकि मच्छर जी का जज्बा संक्रमित कर सकते हैं उसके आसपास जमीन बंदरों की संख्या तेजी से कम हो रही है ऐसी घटना है कि अगले 16 सालों में इसकी आबादी 80 फ़ीसदी कम हो जाएगी अगर किसी तरह वायरस पहला तो यह और भी जल्दी खत्म हो जाएंगे

Previous articleकोरोनावायरस का कहर: PM मोदी ने छात्रों को दी बड़ी जिम्मेदारी
Next article‘सुप्रीम’ आदेश: जब स्कूल ही नहीं खुले तो शुल्क किस बात की 15% कटौती अनिवार्य
My name is Ashok Saini I am a blogger / news reporter I am working on a news website and I work to spread the news to the people

Leave a Reply