LadengeCoronaSe: पहला अमेरिकी विमान भारत पहुंचा,

0
LadengeCoronaSe: पहला अमेरिकी विमान भारत पहुंचा, अमेरिका

LadengeCoronaSe: पहला अमेरिकी विमान भारत पहुंचा, अमेरिका ने कहा कायम रहेगी 70 सालों की दोस्ती

LadengeCoronaSe अमेरिकी राजदूत ने ट्वीट कर लिखा, अमेरिका की तरफ से कोरोना राहत को लेकर पहला विमान भारत पहुंचा दिया गया है बीते 70 सालों की दोस्ती में अमेरिका हमेशा भारत के साथ खड़ा है और कोरोना संकट में भी भारत के साथ खड़ा रहेगा’ ट्वीट करते हुए लिखा #USIndiaDosti  

कोरोना महामारी से जंग लड़ रहे भारत की मदद के लिए अमेरिका द्वारा भेजे गए जरूरी मेडिकल सामान की पहली खेप शुक्रवार को सुबह यानी आज सुबह दिल्ली एयरपोर्ट पर पहुंच गया है। अमेरिकी राजदूत ने ट्वीट कर जानकारी देते हुए कहा कि 400 ऑक्सीजन सिलेंडर, करीब 10 लाख कोरोना टेस्ट किट और अन्य उपकरणों को लेकर अमेरिकी विमान दिल्ली इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर उतर चुका है।

अमेरिकी राजदूत ने किया ट्वीट

LadengeCoronaSe बता दें अमेरिकी राजदूत ने ट्वीट कर लिखा, अमेरिका की तरफ से कोरोना राहत को लेकर पहला विमान भारत पहुंचा दिया गया है बीते 70 सालों की दोस्ती में अमेरिका हमेशा भारत के साथ खड़ा है और कोरोना संकट में भी भारत के साथ खड़ा रहेगा’ ट्वीट करते हुए लिखा #USIndiaDosti

 

 यूरोपीय संघ के कई देश मदद के लिए आगे आए हैं

यूरोपीय संघ (ईयू) के कई सदस्य देश कोरोना महामारी से निपटने में मदद के लिए भारत को की मदद को आगे आए हैं। संघ के नागरिक रक्षा तंत्र के जरिये यूरोपीय देश जैसे आयरलैंड, बेल्जियम, रोमानिया, लक्समबर्ग, पुर्तगाल और स्वीडन ने 27 अप्रैल को घोषणा की थी कि वे देश को ऑक्सीजन सांद्रक और वेंटिलेटर जैसी चिकित्सा आपूर्ति भेज रहे हैं। अब इस सूची में फ्रांस, इटली, ऑस्ट्रिया और फिनलैंड जैसे देश भी शामिल हो चुके हैं। ईयू ने एक बयान में कहा कि आगामी दिनों में जर्मनी सहित ईयू के अन्य सदस्य देशों से भी मदद भेजे जाने की उम्मीद है।

जाने किन देशों से क्या मदद मिलेगी/ क्या भेजा जाएगा

फ्रांस:  आठ ऑक्सीजन जनरेटर, तरल ऑक्सीजन कंटेनर और 28 वेंटिलेटर और अन्य चिकित्सा आपूर्ति
इटली: एक ऑक्सीजन उत्पादक संयंत्र मॉडल, 20 वेंटिलेटर
आयरलैंड: अतिरिक्त 550 ऑक्सीजन सांद्रक, 60 वेंटिलेटर, एक ऑक्सीजन जेनरेटर
फिनलैंड: 318 ऑक्सीजन सिलेंडर
ऑस्ट्रिया: रेमेडिसविर की 5,521 शीशियां, 238 ऑक्सीजन सिलेंडर, 1,900 ऑक्सीजन के डिब्बे
बेल्जियम: रेमडेसिविर की नौ हजार खुराक
स्वीडन: 120 वेंटिलेटर
रोमानिया: 80 ऑक्सीजन सांद्रक, 75 ऑक्सीजन सिलेंडर
लग्जमबर्ग: 58 वेंटिलेटर भारत भेज रहा है
पुर्तगाल: रेमडेसिविर की 5,503 शीशियां साथ ही हर हफ्ते 20 हजार लीटर ऑक्सीजन भेजने का वादा

 

Previous articleजाह्नवी कपूर समंदर किनारे बिकिनी में मचाया हंगामा, फैंस के मुंह
Next articleiphone 12: एप्पल को 6.63 लाख करोड़ के पार का मुनाफा,
My name is Ashok Saini I am a blogger / news reporter I am working on a news website and I work to spread the news to the people

Leave a Reply