Ganesh Chaturthi 2021: गणेश चतुर्थी शुभ मुहूर्त पूजा विधि महत्व

0
Ganesh Chaturthi 2021: गणेश चतुर्थी शुभ मुहूर्त पूजा विधि महत्व

Ganesh Chaturthi 2021: गणेश उत्सव का पर्व हर साल भाद्रपद मास की चतुर्थी तिथि से लेकर अनंत चतुर्दशी तक चलता है। गणेश जी सभी देवो में प्रथम पूज्य है इसीलिए हर शुभ कार्य से पहले गणेश जी की आराधना की जाती है हर साल भाद्रपद चतुर्थी पर लोग गणेश जी को अपने घर लाकर 10 दिनों तक उनकी आराधना के बाद ग्यारहवें दिन अनंत चतुर्दशी पर धूमधाम के साथ उन्हें विसर्जित करते है मान्यता है की इन 10 दिनों के दौरान की गयी पूजा बहुत फलदायी होती है आज हम आपको भाद्रपद गणेश चतुर्थी (Ganesh Chaturthi 2021) पर्व की शुभ तिथि, गणेश स्थापना मुहूर्त, विधि और इस दिन किये जाने वाले उपाय के बारे में बताएँगे।

 

गणेश चतुर्थी शुभ मुहूर्त 2021

Ganesh Chaturthi shubh muhurat 2021

  1.  साल 2021 में गणेश चतुर्थी का पर्व 10 तम्बर शुक्रवार से शुरू होगा.
  2.  गणेश पूजा का शुभ मुहूर्त होगा – प्रातःकाल 11:03 मिनट से सायंकाल 01:33 मिनट तक |
  3.  चतुर्थी तिथि प्रारम्भ होगी- 10 सितम्बर प्रातःकाल 12:18 मिनट पर |
  4.  चतुर्थी तिथि समाप्त होगी- 10 सितम्बर रात्रि 09:57 मिनट पर |
  5.  गणेश विसर्जन 19 सितम्बर रविवार के दिन किया जाएगा.

 

गणेश चतुर्थी स्थापना पूजा विधि

Ganesh Chaturthi 2021 sthapana Puja Vidhi

चतुर्थी तिथि के दिन प्रातः काल स्नान के बाद व्रत का संकल्प लें. शास्त्रों के अनुसार गणपति बप्पा का जन्म दोपहर के समय हुआ था। इसीलिए इस दिन गणेश जी का पूजन दोपहर में करने का विधान है. सबसे पहले पूजास्थल को गंगाजल छिड़ककर शुद्ध कर ले अब भगवान गणेश (Ganesh Chaturthi 2021) का आह्वान और मंत्रोच्चार करे दोपहर के समय शुभ मुहूर्त में गणपति जी की प्रतिमा एक चौकी पर लाल कपड़े के ऊपर स्थापित करे।

Ganesh Chaturthi 2021
Ganesh Chaturthi 2021

अब विधि विधान से उनका पूजन करें और फिर उन्हें सिंदूर और उनके सबसे प्रिय मोदक यानी लड्ड, पुष्प, और 21 दूर्वा अर्पित करे. गणपति बिप्पा को दूर्वा अर्पित करते समय ‘ॐ गणाधिपताय नमः” मंत्र का जाप करे पूजा के बाद लड्डुओं का प्रसाद सभी में वितरित करे इसी __तरह 10 दिनों तक बाप्पा की आराधना कर गणपति बप्प्पा (Ganesh Chaturthi) का विसर्जन करे और उनसे सुख समृद्धि की कामना करे।

गणेश चतुर्थी उपाय

भगवान गणेश जी सभी देवताओं में प्रथम पूज्य और रिद्धि-सिद्धि के दाता माने गए है धार्मिक मान्यता के अनुसार गणेश चतुर्थी के दिन अगर श्री गणेश जी की पूजा में कुछ चीजों का विशेष ध्यान रखा जाय तो वो शीघ्र ही प्रसन्न होकर आपकी सभी मनोकामनाओं को पूरी करते हैं. इस दिन गणपति बप्पा का आशीर्वाद पाने के लिए भाद्रपद चतुर्थी के दिन घर में उनकी स्थापना करे और उन्हें पूजा में अक्षत, दूर्वा, सिन्दूर, गेंदे के फूल, मोदक या लड्डु और केले का भोग अर्पित करे इस छोटे से कार्य या उपाय से भगवन गणेश (Ganesh Chaturthi) जी जल्द प्रसन्न होते है आपके सभी संकटो को हर लेते है।

गणेश चतुर्थी महत्व

वैसे तो हर माह चतुर्थी तिथि आती है लेकिन भाद्रपद माह की गणेश चतुर्थी के दिन भगवान् गणेश जी का जन्म हुआ माना गया है यह दिन उनके जन्मोत्सव के रूप में पूरे 10 दिनों तक मनाया जाता है भगवन गणेश जी सभी देवो में प्रथम पूज्य है और भक्तो के सभी विघ्नो को हरने वाले है मान्यता है की भाद्रपद गणेश चतुर्थी (Ganesh Chaturthi 2021) के दिन जो भी गणपत्ति बाप्पा को अपने घर लाकर विराजमान करने के बाद नियमित रूप से पूजा कर ग्यारहवें दिन उनका विसर्जन करता है तो भगवान गणेश जी उसके सभी संकटो को हर कर उसके जीवन की सभी परेशानियों को दूर कर देते है।

 

 

Previous articleतारक मेहता का उल्टा चश्मा के टप्पू और बबीता जी कर रहे हैं रियल लाइफ डेट
Next articleCurrent Affairs Gk Today In Hindi 11 September 2021
My name is Ashok Saini I am a blogger / news reporter I am working on a news website and I work to spread the news to the people

Leave a Reply