Delhi High Court/Kendriya Vidyalaya दिल्ली HC ने KV को बताई ये बात।

Delhi High Court/Kendriya Vidyalaya दिल्ली HC ने KV को बताई ये बात।

Delhi High Court ने सोमवार को केंद्रीय Kendriya Vidyalaya से अपने स्कूलों में पढ़ने वाले विकलांग छात्रों के लिए विशेष शिक्षकों की नियुक्ति के लिए दायर एक जनहित याचिका पर जवाब मांगा। कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश विपिन सांघी की अध्यक्षता वाली पीठ ने एनजीओ ‘सोशल ज्यूरिस्ट’ की एक याचिका पर नोटिस जारी किया और केवी को अपने स्कूलों में नियुक्त विशेष शिक्षकों का विवरण देते हुए एक हलफनामा दाखिल करने को कहा।

 

Delhi High Court ने Kendriya Vidyalaya को बताई ये बात

पीठ ने Kendriya Vidyalaya से यह भी बताने को कहा कि क्या ऐसे केंद्रीय विद्यालय हैं जहां विशेष शिक्षकों की नियुक्ति नहीं की गई है। याचिकाकर्ता ‘kvs court case status today’ की ओर से पेश अधिवक्ता अशोक अग्रवाल ने कहा कि 2009 में दिए गए आश्वासन के बावजूद केवी ने किसी विशेष शिक्षक की भर्ती नहीं की है।

याचिकाकर्ता ने KV से आग्रह किया कि वे KV को पर्याप्त संख्या में विशेष शिक्षकों के नियमित पद सृजित करने, भर्ती नियम बनाने और हर स्कूल में कम से कम दो विशेष शिक्षकों की भर्ती करने का निर्देश दें। याचिका में कहा गया है कि केवीएस ने न तो विशेष शिक्षकों के स्थायी पद सृजित किए हैं और न ही भर्ती नियम बनाए हैं और न ही आज तक कोई भर्ती की है।