कोरोनावायरस का कहर: PM मोदी ने छात्रों को दी बड़ी जिम्मेदारी

0
कोरोनावायरस का कहर: PM मोदी ने छात्रों को दी बड़ी जिम्मेदारी

कोरोनावायरस का कहर: PM मोदी ने छात्रों को दी बड़ी जिम्मेदारी

देशभर में वैश्विक संक्रामक महामारी के कारण सामुदायिक स्वास्थ्य सेवाएं चरमरा गई है वहीं निजी क्षेत्रों के अस्पताल स्वास्थ्य व चिकित्सा संस्थान भी बेहाल और लाचार हो चुके हैं मरीजों की संख्या इतनी है कि अस्पतालों में ना केवल सुविधाएं बल्कि चिकित्सकों मेडिकल कर्मचारियों और नर्सिंग एवं देखभाल कर्मचारियों की भारी मात्रा में कमी पड़ रही है कई राज्यों में तो सालों ने नए स्टाफ को पोस्टिंग नहीं मिल रही है ले जिससे वहां स्वास्थ्य कर्मियों की कमी नजर आ रहे हैं ऐसे में प्रधानमंत्री PM मोदी ने विद्यार्थियों को एक बड़ी जिम्मेदारी सौंप दी है!

देश को कोरोनावायरस से मुक्त कराने के लिए पीएम मोदी ने विद्यार्थियों को अपना संकट मोचन हनुमान बना लिया है रविवार को एक उच्च स्तरीय बैठक में PM मोदी ने जो एमबीबीएस विद्यार्थी फाइनल ईयर में है उन सभी विद्यार्थियों को कोरोना महामारी के खिलाफ जारी जंग में मैदान में उतरने के आदेश दिए हैं!

पीएम मोदी ने रविवार को स्वास्थ्य चिकित्सालय सेवा क्षेत्र के विशेषज्ञों के साथ एक अहम बैठक की इस बैठक में एमबीबीएस के फाइनल ईयर वाले विद्यार्थियों को अहम जिम्मेदारी सौंपने का जिम्मा दिया है, कोरोनावायरस योद्धा के तौर पर उनकी सेवाएं लेने का फैसला लिया गया!

स्वास्थ्य बीमा और टीकाकरण भी

इस संबंध में PM मोदी ने कहा कि एमबीबीएस के फाइनल ईयर के विद्यार्थियों को हल्के व मध्यम स्तर के कोरोना केस के टेलिफोनिक परामर्श और निगरानी आदि के काम के लिए रखा जाएगा विद्यार्थी अपनी फैकल्टी के निर्देशानुसार काम करेंगे।
वहीं, बीएससी नर्सिंग और जीएनएम क्वालीफाइड नर्स को वरिष्ठ चिकित्सकों और वरिष्ठ नर्स की निगरानी में पूर्णकालिक तौर पर कोविड मरीजों की देखभाल के लिए नर्सिंग ड्यूटी में लगाया जाएगा। इससे पहले इनका टीकाकरण और अन्य स्वास्थ्य सेवा कर्मियों की तरह बीमा स्कीम में कवर किया जाएगा।

विद्यार्थियों को मिलेगा राष्ट्रीय सेवा सम्मान, भर्तियों में प्राथमिकता दी जाएगी

आपको बता दें कि, पीएमओ यानी प्रधानमंत्री कार्यालय ने कहा कि कोविड ड्यूटी के कर्तव्यों के कम से कम 100 दिन को पूरा करने वाले चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवा कर्मियों को नियमित सरकारी भर्तियों में प्राथमिकता मिलेगी। इसके साथ ही, मेडिकल इंटर्न्स को उनकी फैकल्टी की देखरेख में कोविड प्रबंधन कार्यों के लिए तैयार करेंगे। इसके साथ ही साथ कोविड ड्यूटी में 100 दिन के कार्य को पूरा करने वाले चिकित्सक व स्वास्थ्य कर्मियों को पीएम मोदी द्वारा प्रतिष्ठित कोविड-19 राष्ट्रीय सेवा सम्मान भी दिया जाएगा

Previous articlePUBG गेम जल्द कर सकता है भारत वापसी जाने पूरी जानकारी..
Next articleMayaro Virus: दुनिया पर छाया नई महामारी का साया..!
My name is Ashok Saini I am a blogger / news reporter I am working on a news website and I work to spread the news to the people

Leave a Reply