CBSE 12th Exam Update pm modi

CBSE 12th Exam Update: परीक्षा रद्द होने पर बच्चों-अभिभावकों में खुशी

CBSE 12th Exam Update: परीक्षा रद्द होने पर बच्चों  अभिभावकों में खुशी, देखिए ये खास रिपोर्ट, PM Modi  ने कहा- छात्रों की सुरक्षा हमारी प्राथमिकता!

  • हमारे लिए छात्रों का स्वास्थ्य और उनकी सुरक्षा एक महत्वपूर्ण निर्णय वाला काम है इस पहलू पर कोई समझौता नहीं किया जाएगा। 
  • ऐसे में तनावपूर्ण स्थिति में छात्रों को एग्जाम में बैठाने के लिए मजबूर नहीं करना चाहिए।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की उच्च स्तरीय बैठक में बड़ा फैसला लिया है जिसमें CBSE बोर्ड की 12वीं की एग्जाम CBSE 12th Exam Update’ रद्द करने के लिए सहमति बनी है। इसी के साथ सीबीएसई 12वीं की बोर्ड एग्जाम रद्द कर दिए गए हैं बैठक में सहमति बनी है कि यदि पिछले साल की तरह कुछ छात्र परीक्षा देने की इच्छा रखते हैं तो स्थिति अनुकूल होने पर CBSE द्वारा उन्हें परीक्षा में बैठाने का विकल्प प्रदान किया जाएगा!

PM Modi ने एग्जाम्स पर लिया बड़ा फैसला

पीएम मोदी ने कहा है कि सीबीएसई की 12वीं ‘CBSE 12th Exam Update’ की एग्जाम पर फैसला छात्रों के हित में लिया गया है 12वीं कक्षा के परिणाम सम तरीके से और अच्छी तरीके से तैयार किया जाएगा हमारे छात्रों का स्वास्थ्य और शिक्षा अत्यंत महत्वपूर्ण निर्णय वाला काम है और इस पहलू पर हम कोई समझौता नहीं कर सकते।

आपको बता दें कि बैठक के दौरान PM Modi ने कहा कि छात्रों और अभिभावकों और शिक्षकों में एग्जाम्स के आयोजन को लेकर जो चिंताएं हैं उन्हें दूर किया जाना जरूरी है ऐसे तनावपूर्ण स्थिति में छात्रों को एग्जाम में बैठाने के लिए मजबूर नहीं किया जाना चाहिए PM Modi ने सभी हितधारकों को छात्रों के प्रति संवेदनशील दिखाने की जरूरत बताई है।

PM Modi ने कहा कि सीबीएसई की 12वीं की परीक्षा पर फैसला छात्रों के हित में लिया गया है। उन्होंने कहा कि कोविड-19 ने अकादमिक कैलेंडर को प्रभावित किया है और बोर्ड परीक्षाओं का मुद्दा छात्रों, अभिभावकों और शिक्षकों में अत्यधिक चिंता और तनाव पैदा कर रहा है, जिसे समाप्त करना जरूरी हो गया है।

PM Modi ने बताया कि देश भर में कोरोना महामारी की ऐसी स्थिति लगातार बदल रही है हालांकि देश में नए मामलों की संख्या कम होती नजर आ रही है लेकिन कुछ राज्य प्रभावित मिलने के माध्यम से निधि का प्रबंधन कर रहे हैं कुछ राज्यों में अभी तक लॉकडाउन का विकल्प चुना है ऐसे में छात्रों के स्वास्थ्य को लेकर छात्र, अभिभावक और शिक्षक स्वाभाविक रूप से चिंतित हैं।