Akshaya Tritiya 2022 अक्षय तृतीया खरीदारी शुभ मुहूर्त, ऐसे करें पूजा।

Akshaya Tritiya 2022

Akshaya Tritiya 2022: शास्त्रों में अक्षय तृतीया 2022 का बड़ा महत्व है धार्मिक दृष्टि से कभी क्षय न होने वाली यह तिथि वैशाख माह के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को मनाई जाती है। इस वर्ष अक्षय तृतीया 3 मई, मंगलवार को है इस साल अक्षय तृतीया पर कई शभ योग और राजयोग बनने से यह पर्व और भी अधिक फलदायी होगा अक्षय तृतीया के दिन भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी की विशेष विधि से पूजा कर दान पुण्य के कार्य करना शुभ माना जाता है. आज हम आपको अक्षय तृतीया कैसे मनाये, पूजा विधि, शुभ मुहर्त और अक्षय तृतीया पर किये जाने वाले कुछ खास उपायों के बारे में बताएँगे जो आपको धनवान बना सकते है।

 

Akshaya Tritiya 2022 अक्षय तृतीया शुभ मुहूर्त 2022

इस साल शास्त्रों में अक्षय तिथि 2022 का बड़ा ही महत्व है आपको बता दें कि अक्षय तिथि शुभ मुहूर्त और टाइम क्या रहेगा इस साल अक्षय तिथि का पर्व 3 मई मंगलवार 2022 को मनाया जा रहा है अक्षय तिथि पूजा का शुभ मुहूर्त 3 मई प्रातः काल 05:39 मिनट से लेकर दोपहर 12:18 तक रहेगा वहीं पर अक्षय तिथि प्रारंभ होगी 3 मई प्रातः काल 05:18 से और अक्षय तिथि समाप्त होगी 4 मई प्रातः काल 7:32 मिनट पर।

आपको बता दें कि आप अक्षय तिथि 2022 पर आप कुछ विशेष खरीदारी करना चाहते हैं तो उसके लिए शुभ मुहूर्त रहेगा सुबह 5:39 से लेकर अगले दिन सुबह 05:38 मिनट तक ही आप कुछ खरीद सकते हैं क्योंकि इसके बाद में शुभ मुहूर्त नहीं रहेगा।

  1. साल 2022 में अक्षय तृतीया का पर्व 3 मई मंगलवार को मनाया जाएगा।
  2. अक्षय तृतीया पूजा का मुहूर्त होगा – 3 मई प्रातःकाल 05:39 मिनट से दोपहर 12:18 मिनट तक।
  3. तृतीया तिथि प्रारंभ होगी – 3 मई प्रातःकाल 05:18 मिनट पर।
  4. तृतीया तिथि समाप्त होगी – 4 मई प्रातःकाल 07:32 मिनट पर।
  5. खरीदारी का शुभ मुहर्त- सुबह 05:39 मिनट से अगले दिन सुबह 05:38 मिनट तक।

Akshaya Tritiya 2022 इन चीजों का करे दान

अक्षय तृतीया के दिन आप इन चीजों का दान कर सकते हैं आपको बता दें कि भगवान विष्णु और लक्ष्मी जी के इस दिन बड़े ही धूमधाम से लोग पूजा अर्चना करते हैं आपको बता दें कि आप गरीब लोगों को इस दिन दान करते हैं तो आपके लिए शुभ माना जाता है शास्त्रों के अनुसार इस दिन जल का कई पात्र यानी बर्तन जैसे कि आप मिट्टी का घड़ा या पानी पीने के लिए जो भी वस्तु यूज़ में होती आती है उन वस्तुओं का आप गरीब लोगों में दान कर सकते हैं इससे भगवान विष्णु और लक्ष्मी जी की आप पर कृपया बनी रहेगी।

अक्षय तृतीया के दिन किये दान का फल कई गुना अधिक और अनंत माना जाता है. शास्त्रों के अनुसार इस दिन जल का कोई पात्र यानी बरतन जैसे गिलास, लोटा, घड़े का दान करना चाहिए. गर्मी के मौसम में जल से जुड़ी शीतल चीजों का दान सबसे लाभकारी होता है। इसके अलावा आज के दिन गुड़ या मीठी रोटी बनाकर गाय को खिलानी चाहिए इसके अलावा इस दिन गुड़, घी, सोना-चाँदी, नमक, तिल या वस्त्र अदि का दान करना शुभ माना गया है।

 

Akshaya Tritiya 2022 अक्षय तृतीया पूजा विधि

ज्योतिष की मानें तो इस बार अक्षय तृतीया मंगलवार के दिन है इस दिन रोहिणी नक्षत्र और शोभन योग की वजह से मंगल रोहिणी योग बन रहा है. इस योग में चार बड़े राशि अपने उच्च भाव में होंगे, जिस कारण इस बार अक्षय तृतीया बहुत खास है इस दिन प्रातःकाल जल्दी उठकर पूजा के शुभ मुहूर्त में पूजास्थल पर भगवान विष्णु और माँ लक्ष्मीजी की प्रतिमा स्थापित करे. प्रतिमा को पंचामृत से स्नान कराकर तिलक करे.पूजा स्थल पर जल से भरा कलश रखे।

अब भगवान विष्णुजी को पीले फूल और तुलसी के पत्ते अर्पित करें इसके बाद धूप दीप जलाकर विष्णुसहस्त्रनाम नाम का पाठ करे. पूजा में थोड़े गेहूं लेकर भगवान विष्णुजी को अर्पित करे इसके बाद इन गेहं को लाल वस्त्र में लपेटकर तिजोरी में रख दे। गेहूं को कनक अर्थात सोने के समान माना गया है। इसीलिए आज के दिन इनकी पूजा करने से कई शुभ फल प्राप्त होते है. जो सामान आपने खरीदा है उसे भी गंगाजल से शुद्ध कर पूजास्थल परखकर उसकी भी पूजा करनी चाहिए।

  1. अब भगवान विष्णु जी को पीले फूल और तुलसी के पत्ते अर्पित करें।
  2. इसके बाद धूप दीप जलाकर विष्णुसहस्त्रनाम का पाठ करे।
  3. पूजा में थोड़े गेहूं लेकर भगवान विष्णुजी को अर्पित करे इसके बाद इन गेहं को लाल वस्त्र में लपेटकर तिजोरी में रख दे।
  4. इस दिन अगर आप भगवान लक्ष्मी और भगवान विष्णु जी की पूजा करते हैं तो आपको कई शुभ फल प्राप्त होते हैं।
  5. आपको बता दें कि आप अगर अक्षय तृतीया 2022 के दिन कुछ भी खरीदारी की है तो आपको उसे गंगाजल से शुद्ध कर पूजा स्थान पर रखें और उसकी भी पूजा-अर्चना करें।

ये भी पढ़ें

Akshaya Tritiya 2022 धनप्राप्ति उपाय

अक्षय तृतीया पर सोना-चाँदी खरीदने की परंपरा है। इस दिन आप अपनीसामर्थ्य अनुसार सोने चाँदी की खरीद दारी कर सकते है अगर आप सोना चाँदी नहीं खरीद पा रहे है तो इस दिन पीतल की धातु का बना सामान खरीद सकते है. इस दिन गेंहू खरीदना भी शुभ होता है क्योकि मेंह को स्वर्ण केसामान ही माना गया है. इस दिन महालक्ष्मी के मंत्रो का और विष्णु मंत्र ॐ नमोगात तायदेतारा मांत्र का 108 बार जाप करें।

माता लक्ष्मी जी को चावलों की मीठी खीर का भोग लगाएं। अक्षय तृतीया के दिन 11 कौड़ियों को लाल कपड़े में बांधकर पूजास्थान में रखें। इस से देवी लक्ष्मी आकर्षित होती है। अक्षय तृतीया के दिन पूजा स्थान में एकाक्षी नारियल स्थापित करें। ऐसा करने से माता लक्ष्मी की असीम कृपा प्राप्त होती। इस दिन अपनी सामर्थ्य अनुसार कुछ न कुछ दान जरूर करना चाहिए।

  1. माता लक्ष्मी जी को चावलों की मीठी खीर का भोग लगाएं।
  2. अक्षय तृतीया के दिन 11 कौड़ियों को लाल कपड़े में बांधकर पूजास्थान में रखें।
  3. इस से देवी लक्ष्मी आकर्षित होती है।
  4. अक्षय तृतीया के दिन पूजा स्थान में एकाक्षी नारियल स्थापित करें।
  5. ऐसा करने से माता लक्ष्मी की असीम कृपा प्राप्त होती।
  6. इस दिन अपनी सामर्थ्य अनुसार कुछ न कुछ दान जरूर करना चाहिए।
  7. आपको बता दें कि इस दिन महालक्ष्मी के मंत्रों का और भगवान विष्णु के मंत्रों का 108 बार जाप करना चाहिए से आपको धन प्राप्ति होगी।