दिव्या भारती की मौत पर आयशा जुल्का का 29 साल बाद चौंकाने वाला खुलासा।

दिव्या भारती की मौत पर चौंकाने वाला खुलासा।

5 अप्रैल साल 1993 की वह तारीख थी जिस दिन बॉलीवुड की सबसे कामयाब एक्ट्रेस दिव्या भारती महज 19 साल की उम्र में हमेशा के लिए मौत की नींद सो गई दिव्या की मौत की मिस्ट्री आज भी लोगों के लिए एक पहेली बनी हुई है लेकिन अपनी मां भारती को एहसास होने लगा था कि उनके साथ कुछ बुरा होने वाला है।

 

दिव्या भारती की मौत पर चौंकाने वाला खुलासा

दिव्या भारती की सबसे करीबी दोस्त आयशा जुल्का ने एक इंटरव्यू में कहा कि दिव्या भारती हर वक्त जल्दी करती रहती थी वह हमेशा कहती थी जल्दी करो जिंदगी बहुत छोटी है आयशा जुल्का के मुताबिक दिव्या भारती ने अपनी पर्सनल लाइफ को लेकर कभी कुछ नहीं बताया और ना ही साफ तौर पर कुछ कहा उनकी बातों से ऐसा लगता था कि मानव ने किसी चीज का आभास हो गया हो।

 

29 साल बाद मौत पर चौंकाने वाला खुलासा

आयशा जुल्का के मुताबिक जब दिव्या की मौत हो गई तो उसके बाद एक ऐसी घटना घटी जिसे सुनकर आज भी लोगों के रोंगटे खड़े हो जाते हैं आयशा जुल्का और दिव्या भारती ने साल 1993 में एक साथ रंग और वक्त हमारा है जैसी फिल्मों में काम किया जब दिव्या और आशा रंग फिल्म की शूटिंग कर रही थी उसी दौरान दिव्या भारती की मौत हो गई दिव्या की मौत के बाद उनके जैसी दिखने वाली लड़की से बचे हुए सीन शूट कराए गए।

फिल्म पूरी हो गई और फिर इसकी स्क्रीनिंग रखी गई आयशा जुल्का ने बताया कि जैसे ही स्क्रीन पर दिव्या भारती का सीन आया तो अचानक पूरी स्क्रीन पर नाम से गिर पड़ी वहां मौजूद हर शख्स गया और यह बहुत ही अजीब घटना थी इतना ही नहीं कई लोगों ने यह भी दावा किया कि मौत के बाद दिव्या उनके सपनों में आती हैं कहा जाता है कि दिव्या की मौत उनकी बालकनी से गिरकर हुई।

 

लेकिन कई लोग ऐसा नहीं मानते उनका कहना है कि दिव्या बहुत कम समय में बहुत बड़ी स्टार बन गई थी और यही बात सब को खटक रही थी और इसीलिए उन्हें मौत के घाट उतार दिया गया फिलहाल तो इस मामले को लेकर आज भी सवाल कायम है।